Mutual Funds Kya Hai

Mutual Funds Kya Hai? Mutual Fund Me Nivesh Kaise Kare पूरी जानकारी हिंदी में

नमस्ते दोस्तों, स्वागत हे आपका हमारे ब्लॉग Hindisolutions में आज हम आपको बताएँगे की Mutual Funds kya Hai और इससे पैसे कैसे कमाए जाते है | पिछली पोस्ट में हमने आपको Share Market Kya Hai बताया था आशा करता हु की आपको हमारी पिछली पोस्ट पसंद आई होगी |
दोस्तों, आप लोगो ने Mutual Funds का नाम तो सुना नही होगा पर आपको यह पता नहीं होगा की Mutual Funds Kya Hote Hai इसलिए आज हम आपको Mutual Funds की पूरी जानकारी देने वाले है |

आज के समय में हर किसी को अच्छी आमदनी कमाने की इच्छा रहती है पर वह यह फैसला नहीं कर पाते है पैसा कहा Invest किया जाए तो Mutual  Funds आपके लिए अच्छा Option है |

Mutual funds kya hai

दोस्तों आज हम आपको Mutual Funds से सम्बन्धित जानकारी प्रदान करेगे | की Mutual Fund Kya Hota Hai और यह किस तरह से कम करता हे |इसमें निवेश करने के क्या फायदे हे और भी सारी Mutual Funds से जुडी हुई बाते आपको हमारी इस पोस्ट में बताएँगे सबसे पहले हम यह जान ले की Mutual Funds Kya Hote Hai

दोस्तों , अगर हम आसन भाषा में बात करे तो निवेशकों की एक बड़ी संख्या के द्वारा जमा राशी को Mutual Funds कहते हैं जिसे एक फण्ड में डाल दिया जाता है। फण्ड मेनेजर इस पैसे को विभिन्न वित्तीय साधनों में (अपने अलग अलग बिज़नस ) में निवेश करने के लिए अपने निवेश प्रबंधन कौशल का उपयोग करता है और ज्यादा से ज्यादा Profit हो सके उस तरह से पेसे को इन्वेस्ट करता हे | Mutual Funds कई तरह से निवेश करता है जिससे हमारे द्वारा लगये गये पेसे का रिस्क कम हो जाता हे और एक सुनिशिचित रिटर्न निर्धारित होता है |

उदाहरण के लिये मान लीजिये कि कुछ दोस्त मिल कर एक प्लाट खरीदना चाहते हैं। सौ वर्ग गज के प्लाट के टुकडे की कीमत एक लाख रुपये है। अब यदि इस फंड को 10रु कि युनिट्स में बांटेंगे तो 10,000 यूनिट बनेंगे निवेशक जितने चाहे उतने यूनिट अपनी निवेश क्षमता के अनुसार खरीद सकते हैं यदि आपके पास केवल एक हज़ार रुपये निवेश के लिए हैं तो आप सौ यूनिट खरीद सकते हैं उसी अनुपात (Percent) में आप भी उस निवेश के (जमीन के) मालिक हो गए |

अब मान लीजिये की इस एक लाख के निवेश की कीमत बढ़ कर एक महीने के बाद या कुछ समय पश्चात् 1,20,000  हो गयी अब इस निवेश के अनुसार यूनिट की कीमत निकाली जायेगी |

तो दस रुपये वाला यूनिट अब बारह रुपये का हो चुका है जिस निवेशक ने एक हजार रुपये में सौ यूनिट खरीदे थे, बारह रुपये प्रति यूनिट के हिसाब से अब उसका निवेश (100X12) रुपये 1200 हो चुका है और निवेश करने वाले को 200 रुपये का फायदा हो गया हे |

इस प्रकार आप देख सकते हैं की एक निवेशक जो कि बड़ा निवेश नहीं कर पाता, उस के पास छोटे छोटे यूनिट्स में निवेश करने की सुविधा है. ज्यादातर लोग अधिक पेसे कमाने के लालच में शेयर बाजार में इन्वेस्ट करते हैं।

जरुर पढ़े: Share Market Kyai hai? Share kya Hai? Share Market की पूरी जानकारी हिंदी में 

लेकिन देखा गया है कि शेयर बाजार में मोटी कमाई के लिए जाोखिम भी बड़ा लेना पड़ता है। कहते हैं ”न नो रिस्क नो गेन”। अब सवाल यह उठता है कि आम निवेशक, जो बाजार की निवेशीय कला के माहिर नहीं हैं फिर भी अपनी पूंजी पर लाभ कमाना चाहते हैं, तो उनके लिए म्यूच्यूअल फंड्स बेहतरीन अॉप्शन हैं।Mutual Funds में लंबे समय तक निवेश करने पर अक्सर बेहतर रिटर्न मिलती है। लेकिन बैस्ट रिटर्नस के लिए सही Mutual Funds कौन-सा रहेगा इसके लिए रिसर्च की जरूरत रहती है या आपको किसी एक्सपर्ट की एडवाइज़ लेनी पड़ती है। जिससे की अप्प ज्यादा से ज्यादा लाभ उठा सके |

Types of Mutual Funds

दोस्तों अपने यह तो जान लिया की Mutual Funds Kya Hai पर आपको यह भी जानना होगा की यह अक तरह का नही होता हे इसके कई प्रकार होते हे जिनको आपको समझना होगा हम यह आपको Types Of Mutual Funds In Hindi बारे में विस्तार से बतायेगे |

Open Ended Mutual Fund

Open Ended का मतलब की आप इस निवेश योजना में आप अपनी निवेश यूनिट को कभी भी खरीद और कभी भी बेच सकते है.और इसके अंदर आपको छूट होती है. और Open Ended Mutual Fund भी अलग-अलग प्रकार के होते जैसे डेट फंड, लिक्विड फंड, इक्विटी फंड, बैलेंस्ड फंड इत्यादि.

Debt Fund

Debt Fund के अन्दर ज्यादातर सरकारी सुरक्षायें के अंदर निवेशको होती है और Debt Fund के अंदर इक्विटी फंड से कम फायदा होता है लेकिन यही एक रिस्क फ्री निवेश है और यह एक निश्चित आय के लिए सबसे अच्छे निवेश विकल्प हैं।

Liquid Mutual Fund

एक लघु अवधि के निवेश कोष है यानि कि आपके पास थोड़ा समय के लिए पैसे है और आप उसे थोड़े समय के लिए ही इन्वेस्ट करना चाहते हैं तो आप Liquid Mutual Fund के अंदर निवेश कर सकते हैं यह आपको Risk free और Safe Investment ऑप्शन देता है जो निवेशक थोड़े समय के लिए निवेश करना चाहते हैं उनके लिए ये फण्ड बिलकुल सही है. |

Equity Fund

शेयर मार्किट अंदर निवेश करते हैं जो निवेशक को लम्बे समय तक निवेश रखना चाहते हैं उनके लिए Equity Fund बिलकुल सही निकेश विकल्प है लम्बे समय तक निवेश रखने निवेश करने से अच्छा Return मिलता है. लेकिन थोड़ा समय के लिए निवेश करने से इसके अंदर रिस्क ज्यादा होता है .

Balanced Fund

यदि आप कम रिस्क के साथ अधिक से ज्यादा प्रॉफिट कमाना चाहते हैं. तो आप Balanced Fund में निवेश कर सकते है. Balanced Fund निश्चित प्रतिभूतियां में निवेश करता है इसलिए उसके अंदर रिस्क बहुत काम होता है और निवेशको की निवेश बिलकुल सेफ होती है और इन्वेस्टर अच्छी रिटर्न्स भी ले सकता है. |

Close Ended Mutual Fund

इसके अंदर शुरुआत में ही नये Fund Offer जरुरी होते है और निवेशक उसी समय निवेश कर सकता है उसी समय निवेशक का समय भी फिक्स होता है और उससे पहले इन्वेस्टर अपनी इन्वेस्टमेंट को नहीं खुलवा सकता हैं यदि खुलवाता है तो उसे कोई फायदा नहीं होगा Close Ended Mutual Fund Plan दो प्रकार के होते है Capital Protection Fund और  Fixed Maturity Plan.

Capital Protection Fund

में मुख्य रूप से निवेश की गई राशी को सुरक्षित रखते हुए लाभ कमाने के लिए निवेश किया जाता है इस योजना में मुख्य रूप से Fixed Income सिक्योरिटीज में निवेश किया जाता है मगर एक छोटा भाग Equity में भी निवेश किया जाता है इन फंड्स में कैपिटल को सुरक्षित रखने का दबाव रहता है और क्योंकि यह एक Closed Ended योजना होती है इसीलिए केवल निश्चित समय अवधि तक ही निवेश किया जाता है इसलिए Fund Manager के पास अधिक रिस्क लेने की संभावना ही नहीं रहती है |

Fixed Maturity Plan

इसमें पहले से Maturity का समय निर्धारित रहता है और ऐसे डेट इंस्ट्रूमेंट्स में निवेश किया जाता है जो फण्ड की अवधि के साथ Mature हो रहे हों इस प्रकार के फंड्स में भी Charges कम रहते हैं क्योंकि फण्ड मेनेजर को पहले से निर्धारित इंस्ट्रूमेंट्स में निवेश करना होता है और फण्ड प्रबंधन के लिए अधिक कुछ करने की संभावना ही नहीं बचती |

Mutual Funds me Nivesh ke Fayde

फ्रेंड्स अब हम आपको म्यूच्यूअल फंड्स से होने वाले फायदे बतायेगे जो की आपको किसी भी तरह के म्यूच्यूअल फण्ड को लेने पर मिलते हे इसके कुछ खास फायदे इस प्रकार हे |

  • Mutual Funds के द्वारा आप अपने निवेश (पूँजी ) की रक्षा कर सकते हैं और साथ ही आपके रिटर्न के उद्देश्यों को पूरा करने में सहायता प्राप्त कर सकते हैं।
  • म्यूच्यूअल फण्ड अलग–अलग जरूरतों और कम खतरे की स्थिति के साथ निवेशकों को विभिन्न  प्रकार की योजनाएं प्रदान करता है।
  • Mutual Funds एक निवेशक को विभिन्न प्रकार की योजनाओं,ऋण और इक्विटी दोनों में रकम का निवेश करने का अवसर प्रदान करता है।
  • Mutual Funds निवेशकों को किसी भी समय या निश्चित समय पर और योजना के बंद होने पर पैसे निकालने के लिए अवसर प्रदान करता हैं।
  • Mutual Funds निवेशकों को आय पर कर का भुगतान करने की ज़रूरत नहीं है, जबकि फिक्स्ड डिपाजिट में आपको अपनी कमाई पर हर साल कर का भुगतान करना पड़ता है |
  • Mutual Funds में आप ऑनलाइन और साथ ही ऑफ़लाइन निवेश कर सकते हैं। आप ऑनलाइन बेच सकते हैं और ऑनलाइन खरीद सकते हैं। आप अपने सभी अपडेट ऑनलाइन प्राप्त कर सकते हैं। जिससे समय की बचत होगी |

क्या आपने यह पढ़ा? Social Media Kya Hai? पूरी जानकरी हिंदी में – Hindisolutions

Conclusion

दोस्तों में आशा करता हु की आपको हमारी पोस्ट Mutual Fund Kya Hai आपको पसंद आई होगी, इस पोस्ट में हमने आपको What Is Mutual Fund In Hindi भी बताया है |

दोस्तों वैसे तो Mutual Funds के जरिए सिर्फ इक्विटी या शेयर बाजार में ही नहीं, बल्कि डेट, गोल्ड और कमोडिटी में भी पैसे लगाए जा सकते हैं लेकिन अगर आपको शेयर बाजार की ज्यादा समझ नहीं है या आप इसमें लगाए गए अपने पैसे की निगरानी के लिए वक्त नहीं निकाल सकते, तो Mutual Funds निश्चित तौर पर आपके लिए बेहतर माध्यम है |

Summary
Review Date
Reviewed Item
Mutual Funds Kya Hai? Mutual Fund Me Nivesh Kaise Kare पूरी जानकारी हिंदी में
Author Rating
51star1star1star1star1star
Rate this post

One comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *