sar dard ka ilaj

Sar Dard ka Ilaj (हिंदी में) – Headache in Hindi | Hindisolutions

नमस्ते दोस्तों, स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग Hindisolutions मै, में शेखर कुमावत आज आपको इस पोस्ट में Sar Dard ka ilaj के बारे में बताने जा रहा हु | आजकल के व्यस्त जीवन में एवं कई परेशानियों के कारण हमारे सिर में अचानक से दर्द शुरू हो जाता है | इसलिए हमने आपको Sar Dard को कम करने कुछ उपाय बताये है |

Headache in Hindi

सरदर्द वेसे तो एक आम समस्या हें जो की किसी को भी हो सकती हें, किन्तु वास्तव में सरदर्द हमारे मस्तिष्क में उपस्थित नर्वस सिस्टम ( तंत्र कोशिकाओं का जाल ) हे, जो की दिमाग पर पडने वाले presure या तनाव की वजहा से उत्पन्न दर्द होता हें, यह दर्द मस्तिष्क से लेकर गर्दन तक हो सकता हें, यह जरूर नहीं हें की आपका पूरा सर ही दर्द करे, यह कभी आधा भी हो सकता हा या फिर सर का अगला हिस्सा ही करे, या फिर कभी कभी सर का पिछला हिस्सा या कभी कभी यह सर के दोनों हिस्सों में भी हो सकता हें, यह दर्द हलके रूप में शुरु होता हें और धीरे धीरे बढने लग जाता हें, और तीव्र रूप ले लेता हें, सरदर्द की वजह सा हमारे कंधे ,गर्दन और बदन की मांसपेशियों में भी दर्द उत्तपन हो सकता हें, यह दर्द सामान्य होता हें ,परन्तु जब यह लगातार होता हें या फिर ज्यादा समय तक होता हें तो इसके कारन सरदर्द से जुडी अन्य समस्याए व बीमारीया भी उत्पन्न हो सकती हें जसे की माईग्रेन इसे आम बोलचाल की भाषा में आधा सीसी भी कहते हें |

सिरदर्द के कारण ( SARDARD KE KARAN )

सिरदर्द होना हालांकि सामान्य बात हें, परन्तु यह जानना हमारे लिए आवश्यक है की यह किन कारणों से हुआ हें , या सिरदर्द होने की वजहा क्या हें, तो आइए हम आपको कुछ ख़ास तरह के कारन बताते हें जिनकी वजह से आपको सरदर्द हो सकता है |और आप जान पायेगे की आपके सरदर्द की वजहा क्या है |

ब्लड प्रेशर (BP)

हमारे शरीर में अगर ब्लड प्रेशर की मात्रा सही नही हें तो इसकी वजह से भी हमे दर्द हो सकता हें, अगर हमारा BP (blood presure) बढ़ा हुआ होगा तो हमे सरदर्द की शिकायत हो सकती हें, इसलिए आप अपना सही समय पर ब्लड प्रेशर चेक करवाये |

खून का जमना (blood cloting)

अगर आपके मस्तिष्क में किसी जगह ब्लड क्लोटिंग हो रही है तो आपको सरदर्द हो सकता है, ब्लड क्लोटिंग तब मस्तिष्क में बनता है जब आपको कभी सर में चोट लगी हो या फिर बचपन की पुरानी चोट के कारन भी यह बन सकता हें | ब्लड क्लोटिंग खून से बना हुआ थक्का होता हें ,यह थक्का आपके लिये खतरनाक साबित हो सकता है, इसलिए आप इसका जल्द से जल्द इसका इलाज किसी चिकित्सक से करवाये |

पर्याप्त नींद न लेना

अगर आप रोजाना 6 से 8 घंटे की पर्याप्त नींद नही लेते है तो आपका इसकी वजह से सरदर्द करेगा और आपका दिनभर भारी सा रहेगा ,इसके लिए आप पर्याप्त नींद ले |

बीमारी की वजह से

अगर आपको बुखार है तो आपका सर दर्द होना लाजमी है क्युकि बुखार के कारण आपके पूरे बदन मे दर्द तो रहता ही है साथ ही आपका सर मे भी दर्द रहता है| इसके साथ ही अगर आप सर्दी जुकाम से पीड़ित है तो भी आपके सर सर मे दर्द रहेगा ही | इसलिए इन बिमारियों का पहले इलाज करवाए |

दवाइयाँ (madicince)

अगर आपको कोई शारीरिक बीमारी है और आप कई दवाइयों का लगातार सवेन कर रहे है या फिर आप कोई दर्द निवारक दवाई ले रहे है तो इनके कारण भी आपको सर मे दर्द हो सकता और कभी कभी ये दवाइया ज्यादा नुक्सान भी कर सकती है , इसलिए इन्सान को कम से कम दवाइयों का सेवन करना चाहिए |

मासिक धर्म ( period )

महिलाओं मे होने वाला सर दर्द उनका मासिक पीरियड भी हो सकता है क्युकि इस समय महिलाओ को शारीरिक तकलीफों से गुजरना पड़ता है और इस समय उनके शारीर मे हारमोनल का उतार चढ़ाव होता है ,जिसकी वजह से उन्हे पीठ दर्द ,कमर दर्द, पेट मे दर्द होना सामान्य सा रहता हें और इन्ही सब कारणों से उनके सर में भी दर्द रहता है |

पुरानी चोट की वजह से

कभी कभी हमें बचपन मे सर मे कोई अन्धरुनी चोट लग जाती है जो उस समय तो ठीक हो जाती है पर वही चोट हमें कुछ समय बाद तकलीफ देती और हमारे सर के दर्द का कारण बन जाती है इसके लिए हमे यह ध्यान होना चाहिए की कहीं कोई पुरानी चोट की वजह से तो हमारा सर दर्द नही हो रहा है |

नजर का कमजोर पड़ना

सर दर्द मे नजर का कमजोर पड़ना एक मुख्य कारण हो सकता है, यदि हमारी आँखों की नजर कमजोर हो गई है या फिर हमारे चश्मे का नंबर बढ़ गया है या कम हो गया है तो इसकी वजह से सर का दर्द होना लाजमी है, क्युकि जब भी हम किसी वस्तू को हमारी आँखों से देखेंगे तो उसकी प्रोसेस हमारे मस्तिष्क से होकर गुजरती है और हमारा मस्तिष्क ही हमें देखने मे मदद करता है, परन्तु जब हम सही तरह से देख नही पाएंगे तो हमरे मस्तिष्क पर दबाव पड़ता है और हमारा सर दर्द करने लग जाता है |

Sir Dard ka Ilaj

यह तो आप सभी जान गए होगे की सरदर्द किन किन कारणों से होता है ,और किस वजह से हमारा Sir Dard  करने लगता है, अब हम Sar dard ka ilaj in hindi  में बताएँगे, हमरे द्वारा बताये गए उपायों का यूज़ कर आप अपना इलाज खुद कर सकते है और इन उपायों का उपयोग कर आप सर के दर्द से अपना बचाव भी कर सकते है, तो आइये हम आपको कुछ उपाय निचे बता रहे है |

एक्यूप्रेशर (aqupresure) के द्वारा

जब भी हमारा सर दर्द करने लगता है तब हम अपने हाथो से अपने सर को दबाते है या किसी और से दबवा कर राहत महसूस करते है | यही वजह है की एक्युप्रेशर का उपयोग बहुत पुराने समय से चला आ रहा है जिसके कारन सर दर्द मे लाभ मिलता है आप अपने अंगूठे और बिच की उंगलीयों से अपने सर को वहा पर दबाये जहा पर हो रहा है , इस तरह आप इस प्रोसेस को लगातार 5 से 10 मिनट तक करते रहे जिससे आपका सरदर्द कम होगा और आप राहत महसूस करेगे |

अदरक व् निम्बू का उपयोग

सरदर्द को दूर करने में आयुर्वेदिक नुस्खे बहुत कारगर साबित होते हें यही वजह है की इनका उपयोग आज के ज़माने में बहुत होता हें, आप सर दर्द मे भी इसका उपयोग कर सकते हें, इसके लिए आप अदरक और निम्बू के रस को बराबर मात्रा मे लेकर मिला ले और इसका सेवन दिन में 2 से 3 बार करे, इसके उपयोग से आपको जल्द राहत मिलेगी, और आप चाहे तो अदरक के पावडर को गर्म पानी में मिलाकर इसकी भाप भी ले सकते यह भी आपको बहुत फायदा देती हें|

तुलसी और लोंग का उपयोग

तुलसी और लोंग एसी आयुर्वेदिक दवाई में आते हें जो हमरे शरीर मे होने वाले दर्द मे राहत देते हें और हामरी मांसपेशियों को आराम पहुचाते हें, आप तीन से चार तुलसी की पत्तियों को लेकर उन्हें उबालकर चाय के साथ पी सकते हें इससे आपको सरदर्द में तुरन्त फायदा मिलेगा इसी तरह आप लोंग को गर्म करके उसे आप कपड़े में बांध कर उसे कुछ देर तक सूंघने से भी आपको सर दर्द में राहत मिलेगी व आपका सरदर्द दूर होगा |

बर्फ (ICE )का उपयोग करे

सरदर्द में आप बर्फ का भी उपयोग कर सकते हें बर्फ की सिकाई भी सरदर्द से राहत देती हें | बर्फ का उपयोग आप शरीर में अगर कहीं पर चोट लगी हो और सुजन आ गई हो तो उसकी सिकाई के लिए भी आप बर्फ का उपयोग कर सकते हें इससे सुजन में कमी आएगी और आराम मिलेगा, बर्फ का उपयोग करने के लिये आप बाजर में उपस्थित आइस बैग का उपयोग कर सकते हें या फिर आप कपड़े में बंधकर भी सर की सिकाई कर सकते हें | इससे सर दर्द में जल्दी आराम मिलता हें |

पेट की कब्ज व गैस को दूर करे

कभी-कभी हमारा पेट खराब हो जाता हें, या हमारे पैट में गैस बनने लग जाती हें|जिसका असर आपके सर पर पड़ता हें और आपका सर दर्द करने लग जाता हें| इसके लिए हम आपको एक उपाय बता रहे हें जिससे आपका सर दर्द भी दूर होगा और आपके गैस की कब्ज व गैस भी दूर हो जायगी, आप इसके लिय गर्म पानी में एक नीबू निचोड़ कर पिये इससे आपको जल्द आराम होगा |

नारियल का तेल

कभी-कभी हमें ज्यादा गर्मी से भी सर में दर्द होता हें , ऐसे में आप नारियल का तेल लगाये व सर में नारियल के तेल से मालिश करे | नारियल का तेल सर क लिए बहुत लाभदायी होता हें, यह आपके बालो को भी घना और काला करता हें और साथ ही सर दर्द में भी लाभदायी रहता हें, और शरीर में थंडक बनी रहती हें |

सेंवफल (apple) का उपयोग करे

दोस्तों सेंवफल में कुछ ऐसे तत्व मोजूद होते हें जो की आपके शरीर में उपस्थित एसिड एल्कलाइन लेवल को बलेंस करते हें, क्योकि इसके असंतुलन से भी आपके सिर मरमें दर्द हो सकता हें इसलिए आप ज्यादा से ज्यादा सेंवफल का उपयोग करे या हो सके तो आप एक सेंवफल रोजाना भी खा सकते हें, आपके स्वास्थ  के लिय बहुत लाभदायक होगा |

कपालभाती व अनुलोम विलोम प्राणायाम

दोस्तों अपने देखा होगा की ठण्ड के दिनों में हमें ज्यदा सर दर्द रहता हें , इसका कारण  इन दिनों होने वाली सर्दी जुकाम और ठंडी हवाये होती हें, Sir Dard ke Liye yoga में हमें कपालभाती व अनुलोम विलोम प्राणायाम का नियमित रूप से रोजाना 10 से 15 मिनट तक करना चाहिए, यह आपके स्वस्थ को ठीक करता हें हें साथ ही ये आपकी ऑक्सीजन क्रिया को भी दूरस्थ करता हें, जिससे आपकी मस्तिष्क की मांसपेशिया दूरस्थ रहती और आपके सर के दर्द से भी राहत मिलती है |

धुम्रपान व शराब से दूर रहे

हम सभी जानते हें की धुम्रपान व शराब हमारे स्वास्थ पर कितना बुरा असर डालते हें परन्तु कुछ लोग इन चीजो के आदि हो जाते हें, और वे रोजाना इन चीजो सेवन करने लग जाते हें और यदि वह इनका सेवन नहीं करते हें तो उनके सर में दर्द होने लग जाता हें | परन्तु धुम्रपान व शराब को आपको छोडना पडेगा इससे आपको कुछ समय तक जरूर प्रॉब्लम होगी पर यह धीरे-धीरे ठीक हो जाएगीऔर आपकी सर दर्द की प्रोब्लम हमेशा के लिए ख़त्म हो जायगी |

चाय (TEA ) का सेवन करे

हम सभी जानते हें की चाय के सेवन से हमे कितनी जल्दी आराम हो जाता हें, और हम सभी सर दर्द में सबसे पहले चाय का ही उपयोग करते हें | क्योकि चाय के अंदर उपस्थित निकोटिन हमें स्फूर्ति देता हें व थकावट को दूर करता हें चाहे वह मानसिक हो या फिर शरीरिक | अगर आप जल्द से जल्द सर दर्द से राहत चाहते हें तो चाय का सेवन कर सकते हें |

पान के पत्ते का उपयोग करे

पान का पत्ता आयुर्वेद में दर्द नाशक के रूप में जाना जाता हें व इसका उपयोग दर्द को दूर करने के लिये किया जाता हें इसलिए जब भी आपके सर में दर्द हो आप एक पान का ताजा पत्ता चबाकर खाए इससे आपको सर दर्द में राहत मिलेगी |

पत्थर सुवा का उपयोग करे

पत्थर सुवा का उपयोग आयुर्वेद में बहुत रूपों में किया जाता हें, क्योकि पत्थर सुवा एक ऐसी औषधि हें जो की एस्प्रिन नामक दवाई के सामान दर्द में राहत देती हें आप इसका उपयोग सर के दर्द में कर सकते हें | पत्थर सुवा सर में होने वाले माइग्रेन को भी खत्म कर सकता हें |

Conclusion

तो दोस्तों आशा करता आपको हमारी आज की पोस्ट Sar Dard ka Ilaj पसंद आई होगी, हम इसी तरह और नयी पोस्ट लाते रहेंगे, जिससे आपको मदद मिलती रहे, तो जुड़िये रहिये हमारे ब्लॉग Hindisolutions से |

धन्यवाद् 🙂

Summary
Review Date
Reviewed Item
Sar Dard ka Ilaj (हिंदी में) - Headache in Hindi | Hindisolutions
Author Rating
51star1star1star1star1star
5 (100%) 4 votes

2 comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *