Typhoid Symptoms in Hindi

Typhoid Symptoms in Hindi | Hindisolutions

नमस्ते दोस्तों में शेखर कुमावत आपका हमारे ब्लॉग Hindisolutions में स्वागत करता हु, आज हम Typhoid Fever के बारे में आपको बताएँगे यह रोग कोई नया रोग नही हे इससे सभी लोग परिचित हे और यह किसी को भी आसानी से हो जाता हे । इस रोग का होना आज एक आम सी बात हो गयी हे। आज हम आपको इसके होने के कारन और टाइफाइड के लक्षण के बारे में बतायगे।

Typhoid in Hindi

टाइफाइड एक तरह का बुखार ही होता हे। अगर हम सरल शब्दों में कहे तो जब बुखार ज्यादा समय तक शरीर में बना रहता हे तो उस स्तिथि में शरीर के अन्दर टाइफाइड के संक्रमण पैदा होने लग जाते हे और व्यक्ति को Typhoid Fever हो जाता हे। यह बुखार बेक्टेरिया के कारण होने वाला संक्रमण रोग हे । अधिकांश यह दुषित पानी के पिने के कारण होता हे। इसका अगर सही समय पर इलाज ना किया जाये तो यह आंतो को खतरा पहुचा सकता हे। इसकी वजह से आंतो में सुजन के साथ खून आने का खतरा भी बढ़ जाता हे। इसमें इन्सान की जान भी जा सकती हे। टाइफाइड रोग की वजह से हर साल बहुत से लोग जान गंवा देते हे । आइयें अब हम आपको Typhoid Symptoms in Hindi बताते हे |

Typhoid Symptoms

इस रोग के कुछ सामान्य लक्षण होते हे। जिससे आप इसको आसानी से पहचान सकते हे और इसका इलाज करवा सकते हे। जेसे-

  • ठण्ड लग कर तेज बुखार का आना |
  • बुखार का ठीक नही होना और बार-बार आना।
  • सर दर्द और खासी का ज्यादा समय तक रहना।
  • पेट में अल्सर हो जाना
  • शरीर का ज्यादा कमजोर होना। हाथ पाँव का टूटना
  • बदन दर्द रहना और शरीर में जकडन रहना
  • भूख कम लगना और खाना खाने के बाद उल्टी हो जाना।
  • शरीर का गर्म रहना
  • गर्दन और पीठ में दर्द रहना

Reasons For Typhoid/टाइफाइड के करण

यह तो आप जान गये हे की इसके symptoms क्या-क्या हे अब हम यह बतायेगे की इसके होने के क्या-क्या करण हो सकते हे यह किन कारणों से होता हे या किस वजह से यह फेलता हे। इसके कुछ खास कारण –

गंदे पानी के कारण

टाइफाइड अधिकतर गंदे पानी या दूषित पानी पीने के कारण ज्यादा होता हे ।जब भी हम गन्दा या दूषित पानी पिते हे तो उसके कारण Typhoid के बेक्ट्रिया हमारे शरीर में पहुच जाते हे और हम बीमार हो जाते हे |

दूषित खाना

कभी-कभी हम होटलों में खाना खाने जाते है और हम बीमार हो जाते हे इसका कारण यह होता हे की हमने जो खाना खाया था वह बासी था या फिर खराब पदार्थों से बना हुआ था और ऐसे में हम उसके खाने के बाद बीमार हो जाते हे।

ज्यादा समय तक बुखार का रहना

अगर हमें बुखार आ गया हे और वह जल्दी ठीक हो जाता हे तो कोई बात नही पर अगर वह ज्यादा समय तक रहता हे और ठीक नही होता हे और ठीक होने के बाद-बार बार आ जाता हे तो एसे में आपको टाइफाइड हो सकता हे क्युकी इसके कारन आपके शरीर में टाइफाइड के बेक्टेरिया पनपने लग जाते हे

पीड़ित व्यक्ति से

अगर आपके घर में किसी को टाइफाइड हो गया हे तो अगर आप उसके संपर्क में रहते हे तब इसके वायरस आपको भी लग सकते हे या उस इन्सान का झुटा पानी पिने से या उसके साथ खाना खाने से यह आपको हो सकता हे।

झुटा खाना खाने से

अगर हम पीड़ित व्यक्ति के झुटा खाना खाते हे तो उसके द्वारा भी हमे उस रोगी के शरीर के कीटाणु हमे लग सकते हे। और हमे भी टाइफाइड हो सकता हे। इसलिए कभी भी रोगी की किसी चीज को खाने से बचना चाहिए ।

संक्रमित खून से

अगर हमे कभी किसी भी वजह से खून शरीर में दिया गया हे और वह खुन पहले से ही टाइफाइड से संक्रमित हे तो उसके द्वारा हमे भी टाइफाइड हो सकता हे इसलिए हमेशा स्वस्थ खून ही शरीर में चढाय़े।

Typhoid Preventions/टाइफाइड से कैसे बचे

अगर टाइफाइड हो जाये तो उसमे हमें कुछ सावधानिया रखनी चाहिए जिससे हमे इससे जल्दी छुटकारा मिल सके और हम जल्दी ठीक हो जाये। हम आपको यहा कुछ उपाय बता रहे हे जिनसे आपको टाइफाइड में कुछ राहत मिलेगी ।

  • डॉक्टर के द्वारा बताई गई दवाइयों का समय अनुसार उपयोग करे। उन्ही के द्वारा आप जल्दी से जल्दी ठीक हो सकते हे और नियमित रूप से शरीर की जाँच करवाये।
  • टाइफाइड के दौरान आप उबले हुए पानी का उपयोग करे । इसमें स्वच्छ पानी पीना बहुत जरुरी होता हे । इसलिए पानी को उबाल कर उसे ठंडा कर पिए।
  • खाना खाने से पहले अपने हाथो को अच्छे से साफ करे व उन्हें साबुन से धो कर ही खाना खाए।
  • टाइफाइड के दोरान आपके शरीर में पानी की कमी और कमजोरी होना आम बात है इसलिए आप ग्लूकोस का उपयोग करे इससे शरीर में स्फूर्ति बनी रहेगी।
  • अगर आपको सर्दी और जुकाम हे तो आप तुलसी का काढ़ा बना कर पी सकते हे। इसमें आप चाय के साथ तुलसी के दो चार पत्ते उबाल कर पिने से आपको राहत मिलेगी।
  • बुखार के दोरान आप खाने में पतली रोटी और साथ में मुंग की दाल का सेवन करे यह आपके स्वस्थ के लिए बहुत फायदेमन्द रहगी।
  • टाइफाइड में आप फलो के रस का सेवन ज्यादा से ज्यादा मात्रा में करे फलो का रस आपके शरिर में रोगों से लड़ने की शक्ति को बढाता हे। जिससे आप जल्दी ठीक हो सकते हे।
  • टाइफाइड में बजार से बनी हुई चीजो को ना खाए । यह बासी और दूषित हो सकती हे ।जो की आपको और ज्यादा बीमार कर सकती हे। आप घर पर बने हुए सादे भोजन को ही खाए।
  • मांसाहारी भोजन से भी बचे । यह बीमारी को दोरान ना खाए क्योकि आपका शरीर इस समय कमजोर होता हे और वह इस तरह के खाने को पचा नही पता हे।
  • अगर बुखार के दोरान आपका शरीर डिहाईड्रेशन का शिकार हो गया हे तो ऐसे में आप नारियल पानी का उपयोग कर सकते हे। नारियल पानी डिहाईड्रेशन को दूर करता हे और शरीर में ताजगी लाता हे।
  • टाइफाइड में ली जाने वाली दवाइया बहूत हे गर्म होती हे जो की आपके शरीर में गर्मी कर सकती हे इसलिए आप दवाइयों को दूध के साथ ही लेवे।
  • बुखार के दोरान आप फाइबर युक्त भोजन का सेवन ना करे यह आपके लिए हानोकारक हो सकता हे और ज्यादा मसालेदार सब्जियों का सेवन ना करे। टाइफाइड के दोरान सादा भोजन करे जिसमे कम मसाला हो। और हो सके तो ज्यादा तेल का भी उपयोग ना करे।
  • टाइफाइड के दौरान पालक का सूप पिए। बुखार को ख़त्म करने में पालक का सूप काफी हद तक मदद करता हे।
  • बुखार में अगर शरीर ज्यादा गर्म हो रहा हो तो आप उसे कम करने के लिए अपने माथे पर ठंडे पानी की पट्टी भी रख सकते हे। इससे बुखार कम होता हे।

Conclusion

तो दोस्तों में उम्मीद करता हु आपको हमारी पोस्ट जिसमे हमने Typhoid Fever Symptoms in Hindi में बताये है आपको पसंद आई होगी| इस तरह आप इन उपायों को अपना कर बुखार और उससे होने वाले टाइफाइड रोग से छुटकारा पा सकते हे यहां पर हमारे द्वारा बताये गये उपाय आपकी मदद करेगे।

Summary
Review Date
Reviewed Item
Typhoid Symptoms in Hindi
Author Rating
51star1star1star1star1star
5 (100%) 3 votes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *