Visa Kya Hai? वीजा के टाइप जानिये हिन्दी में |

Dosto आज हम आपको हमारी इस पोस्ट में visa के बारे में बतायेगे की Visa क्या है Visa Ke Prakar,Visa Kise Kahte Hai,kaha Visa Nahi Lagta Hai और Visa के क्या क्या उपयोग हे आदि सभी जानकारी हम आपको इस पोस्ट में देंगे | सबसे पहले हम बात करते है

Visa Kya Hai

दोस्तों visa का मतलब होता है की ‘वह कागज जो देखा गया हो’। वीजा इंगित करता है कि अमुक व्यक्ति वीजा जारी करने वाले देश में प्रवेश के लिए अधिकृत है, यदि वास्तविक प्रवेश के समय आव्रजन अधिकारी इसकी अनुमति दे दे। या कह सकते है की Visa Kya Hai किसी भी दूसरे देश से आने वाले व्यक्ति के लिए VISA एक तरह से परमिशन लेटर होता जो की आपको ये परमिट देता है कि आप किसी दूसरे देश में रह सकते है या काम कर सकते है, लेकिन वो आपके VISA पर निर्भर करता है कि आप कितने दिन दूसरे देश में रह सकते है| वीजा जारी करने वाला देश आमतौर पर इसके साथ कई शर्तें जोड़ देते हैं, जैसे वीजा की वैधता, वह अवधि जिसके दौरान एक व्यक्ति उस देश में रह सकता है | इसके अलाव visa आम तौर एक व्यक्ति को एक देश में प्रवेश करने और वहाँ रहने के अलावा और कोई अधिकार नहीं देता है। प्रवेश और रहने के अलावा और कुछ भी करने के लिए विशेष परमिट की आवश्यकता होती है |

Visa Ka Prakar

दोस्तों अब हम आपको बतायेगे की visa कितने तरह का होता है और वह किस किस तरह के लिए मिलता है | हम एक ही तरह के visa का उपयोग हर जगहा जाने के लिए नही कर सकते इसके लिए हमे अलग अलग कामो के लिए अलग visa की जरूरत होती है |

जेसे की –

Immigrant Visa इमिग्रेंट वीज़ा

यह Immigrant Visa उस कंडिशन में दिया जाता है जब कोई व्यक्ति अपना देश छोड़कर किसी दूसरे देश में बसना चाहता हो। यह Visa सिर्फ सिंगल जर्नी के लिए होता है यानी जब आप इस बात के लिए निश्चित हों कि दूसरा देश आपको परमीशन देने के लिए तैयार है, तभी Visa मिलता है।

Student Visa स्टूडेंट वीज़ा

यह Student Visa किसी देश में हायर स्टडीज या पढ़ाई करने के उद्देश्य से दिया जाता है। यानी अगर आपको किसी डिग्री या कोर्स के लिए विदेश जाना चाहते है तो स्टूडेंट Visa के लिए अप्लाई कर सकते है| यह सिर्फ पढाई के काम अत है |

Tourist Visa टूरिस्ट वीज़ा

दोस्तों आज सबसे ज्यादा टूरिस्ट Tourist Visaलिया जाता हेई क्युकी हर कोई शख्स घुमने फिरने किसी दुसरे देश जाना चाहता है यह visa सिर्फ घूमने-फिरने के लिए जारी किया जाता है। इस Visa को लेकर अगर किसी देश में जाते हैं तो आप किसी तरह की बिज़नेस ऐक्टिविटीज़ से नहीं जुड़ सकते है । कुछ देश ऐसे भी है जो टूरिस्ट Visa जारी नहीं करते |

Business Visa बिज़नेस वीज़ा

Business Visa किसी दूसरे देश में व्यापारिक गतिविधियों मे हिस्सा लेने के लिए दिया जाता है। इसमें किसी पक्की नौकरी को भी शामिल किया जा सकता है और उसके लिए कार्य Visa लिया जा सकता है। या किसी Confrenceमें जाने के लिए दिया जाता है |

Working Holiday Visa वर्किंग हॉलिडे वीज़ा

यह Visa उन लोगों के लिए होता है जिन्हें कंपनी या ऑर्गनाइजेशन की तरफ से वर्किंग हॉलिडे प्रोग्राम के लिए किसी दूसरे देश भेजा जाता है। इसमें घूमने के साथ वर्क करने की अनुमति होती है।

Diplomatic Visa डिप्लोमैटिक वीज़ा

यह Diplomatic Visa सिर्फ राजनयिकों (सरकारी कार्यो ) के लिए होता है। यानी जिन लोगों के पास डिप्लोमैटिक पासपोर्ट होता है, उन्हें ही यह VISAजारी किया जाता है।

Journalist Visa जर्नलिस्ट वीज़ा

यह Journalist Visa न्यूज़ Organizations या मीडिया से जुड़े लोगों को दिया जाता है, मिडिया वाले और रिपोर्टर भी इसी Visa के जरिए एक देश से दूसरे देश में ट्रैवल करते हैं। यह किसी भी बड़े अधिकारी या मिनिस्टर के साथ रिपोर्टर के भेजने के लिए भी दिया जाता है |

Marriage visa मैरिज वीज़ा

यह Marriage visa वीज़ा एक निश्चित समय के लिए जारी किया जाता है। मान लीजिए, कोई भारतीय युवक किसी अमेरिकी लड़की से शादी करना चाहता है तो वह शादी करने के लिए उसे भारत में बुला सकता है और ऐसे में उस लड़की को अमेरिका में इंडियन एंबेसी जाकर मैरिज वीज़ा के लिए अप्लाई करना होगा। उसके बद्द वह यह आकर शादी कर सकती है |

Pansion Visa पेंशन वीज़ा (या रिटायरमेंट वीज़ा)

इस तरह का वीज़ा ऑस्ट्रेलिया और कुछ गिने-चुने देश ही जारी करते हैं। यह उन लोगों को ही दिया जाता है जिनका मकसद दूसरे देश में जाकर किसी तरह पैसा कमाने का नहीं होता। कुछ मामलों में व्यक्ति की उम्र का ध्यान भी रखा जाता है |

तो ये थे Visa Ke Prakar हमने आपको सबसे ज्यादा उपयोग होने वाले और महत्वपूर्ण Visa Ke Prakar बताए है, Visa Ke Prakar और भी कई तरह के होते है,| जैसा की हम जानते है सभी देशों में अलग-अलग कानून होता है, इसलिए अलग-अलग देशों में Visa Ke Prakar भी अलग-अलग होते है |

Kaha Visa Nahi Lagta Hai

दोस्तों विश्व में कुछ  ऐसे देश भी हैं जहाँ नागरिकों को कुछ चुनिंदा देशों में जाने के लिए वीजा बनवाने की जरूरत नहीं होती है। जैसे यूरोपियन यूनियन के सदस्य देशों के नागरिक एक-दूसरे केदेशों में प्रवेश कर सकते हैं। अमेरिका भी 36 देशों को इस तरह की छूट देता है। गल्फ को-ऑपरेशन काउंसिल (छह अरब राज्यों का समूह) में शामिल सदस्य देशों के नागरिक भी एक-दूसरे के यहाँ न सिर्फ बिना वीजा जा सकते हैं, बल्कि आवश्यकतानुसार ठहर भी सकते हैं। ईस्ट अफ्रीकन समुदाय के सदस्य देशों के नागरिक एक-दूसरे के यहाँ बिना वीजा जा सकते हैं। एसा ही भारत में भी होता है यह पर भी भूटान और नेपाल के लोगों को बगैर वीजा आने की अनुमति देता है। लेकिन अपने देश की बजाय किसी अन्य देश से भारत में प्रवेश करने की स्थिति में इन लोगों को पासपोर्ट की आïवश्यकता होगी।

भारतीय नागरिक को यहा Visa की जरूरत नही होती है – Nepal (नेपाल) ,Cambodia (कम्बोडिया) ,Hong Kong (होंग कोंग) ,Mauritius (मॉरिशस),Maldives (मालदीव्स).Bhutan (भूटान),Jordan (जॉर्डन),Jamaica (जमैका).Fiji (फिजी),Macau (मकाउ),Indonesia (इंडोनेशिया) और Thailand (थाईलैंड) इनमे किसी तरह का हमे visa लेने की जरूरत नहीं हे हम यह आसानी से आ जा सकते है |

तो दोस्तों हमारी यह पोस्ट Visa Kya Hai , Visa Ke Prakar , Visa Kise Kahte Hai , Kaha Visa Nahi Lagta Hai  आप सभी को केसी लगी हमे Comment करके जरुर बताये और कोई सुझाव हो तो वह भी हमें आप जरुर दे |

धन्यवाद |

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *